सुहागिनों ने हाथों पर रचाई मेहंदी

( डॉ सुखपाल सावंत खेडा)-

करवाचौथ के व्रत की तैयारियों को लेकर मंगलवार को सुहागिनों ने बाजारों में खूब खरीददारी की। दिन भर बाजारों में रौनक लगी रही। महिलाओं ने करवाचौथ व्रत पर अपने श्रृंगार से संबंधित सामान खरीदा। बुधवार को चंद्रमा के उदय होने पर ही सुहागिनें व्रत को पूरा करेगी। करवाचौथ को लेकर बाजारों में मेहंदी रचने वाले कलाकारों ने भी मंगलवार को खूब चांदी कूटी। 100 रुपये के हिसाब से उन्होंने प्रति महिला के हाथों पर मेहंदी के डिजाइन बनाए। महिलाओं ने बड़े चाव के साथ मोहता मार्केट पहुंचकर इन कलाकारों से अपने हाथों पर मेहंदी लगवाई। कुछ महिलाओं ने अपने घर पर ही मेहंदी रचाई जबकि कुछ युवतियों ने घर-घर जाकर सुहागिनों के हाथों में मेहंदी रचाई। इसी प्रकार करवाचौथ के व्रत के लिए बाजारों में मिठाई की दुकान पर चीनी के करवे भी महिलाओं द्वारा खरीदे गए। मिठाई की दुकानों पर मट्िठयां व घेवर सजाए हुए थे। चूड़ी भंडारों पर भी मंगलवार को पूरी चहल पहल रही। सुहागिनों ने दुकानों पर जाकर अपने मनपसंद की चूड़ियों की खरीददारी की। चूडि़यों की दुकानों पर ही उन्होंने अपने हाथों में चूड़ियां पहनी। कपड़े की दुकानों से सुहागिनों ने नए कपड़े खरीदे। करवाचौथ के व्रत पर महिलाएं साज सज्जा के लिए नए कपड़ों की जमकर खरीददारी कर रही है। इसी प्रकार ब्यूटी पार्लरों के पास भी दिन भर अपने चेहरे को निखारने के लिए महिलाओं की भीड़ लगी रही। पति की लंबी आयु की कामना को लेकर व्रत रखने वाली सुहागिन महिलाएं इस दिन अपने आपको सुंदर व आकर्षित रूप में रखती हैं। फल विक्रेताओं का काम भी करवाचौथ के एक दिन पूर्व गर्म रहा। इस व्रत के दिन अपनी भूख को शांत करने के लिए महिलाएं फलों का सहारा लेंगी। कुछ महिला संगठनों द्वारा करवाचौथ के अवसर पर बुधवार को अनेक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाएगा। विभिन्न मोहल्लों में महिलाएं टोलियों में इकट्ठी होकर पूजा अर्चना करेगी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: