धुरंधरों की लंबी फौज मैदान में



,( डॉ सुखपाल सावंत खेडा)- : हरियाणा के चुनावी समर में राजनीति के धुरंधरों की लंबी-चौड़ी फौज मोर्चे पर डटी हुई है। मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा अपनी पूरी कैबिनेट के साथ चुनाव मैदान में हैं, वहीं पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला समेत 113 दिग्गज वोट के लिए लोगों के बीच पहुंचे हुए हैं। प्रदेश की राजनीति के इतिहास में यह पहला मौका है, जब एक साथ इतने मंत्री, पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक और पूर्व सांसद विधानसभा में पहुंचने के लिए बेताब दिखाई पड़ रहे हैं। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा समेत सभी 11 मंत्रियों को टिकट दिए हैं। विधानसभा अध्यक्ष रघुबीर कादियान, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष फूलचंद मुलाना, महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सुमिता सिंह, कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप शर्मा और युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष संजय छोक्कर भी टिकट के साथ जनता के दरबार में पहुंच चुके हैं। वित्त मंत्री बीरेंद्र सिंह, पर्यटन मंत्री किरण चौधरी, उद्योग मंत्री लक्ष्मण दास अरोड़ा, सहकारिता मंत्री मीना मंडल, कृषि मंत्री हरमोहिंद्र सिंह चट्ठा, सिंचाई मंत्री कैप्टन अजय यादव, शिक्षा मंत्री मांगे राम गुप्ता, बिजली मंत्री रणदीप सुरजेवाला और राजस्व मंत्री सावित्री जिंदल पर कांग्रेस ने पूरा भरोसा जताया है। यह सभी नेता मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल के सदस्य हैं। ऐसा पहली बार हो रहा है कि पूरा मंत्रिमंडल विधानसभा चुनाव लड़ रहा है। हरियाणा के चुनावी समर में एक मुख्यमंत्री, एक पूर्व मुख्यमंत्री, 10 राज्य मंत्री, 41 पूर्व मंत्री, 57 पूर्व विधायक, एक राज्यसभा सदस्य और तीन पूर्व सांसद ताल ठोंक रहे हैं। कांग्रेस ने राजनीति के अनुभवी पंडितों पर सबसे अधिक भरोसा जताया है। राज्य विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस द्वारा 31 निवर्तमान एवं पूर्व विधायकों तथा 17 निवर्तमान संसदीय सचिवों व पूर्व मंत्रियों पर भरोसा जताया गया है। इनेलो ने नौ पूर्व विधायकों और इतने ही पूर्व मंत्रियों पर भरोसा जताया है। हजकां ने आठ पूर्व विधायकों और पांच पूर्व मंत्रियों को टिकट दिए जबकि भाजपा ने चार पूर्व विधायकों और चार पूर्व मंत्रियों पर जीत के लिए दांव खेला है। बसपा के दो पूर्व विधायक और चार पूर्व मंत्री चुनावी समर में ताल ठोंक रहे हैं तो तीन आजाद पूर्व विधायक और दो आजाद पूर्व मंत्री भी 2009 में बनने वाली नई विधानसभा में प्रवेश को उत्सुक बैठे हैं। पूर्व सांसदों में जय प्रकाश जेपी, प्रो. कैलाशो सैनी और कुलदीप बिश्नोई विधायक बनने के लिए लोगों के बीच हैं। मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा किलोई से चुनाव लड़ रहे हैं तो पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने उचानाकलां और ऐलनाबाद से चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। राज्यसभा सांसद अजय चौटाला एमएलए बनने के लिए चुनावी समर में जमकर प्रचार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: